[IMP] सरस्वती गोरा की जीवनी – Biography of Saraswati Gora in hindi jivani

सरस्वती गोरा की जीवनी – Biography of Saraswati Gora in hindi jivani

नाम : सरस्वती गोरा
जन्म : 25 सितंबर 1912
ठिकाण : विझिाअनागरम, आंध्रप्रदेश, भारत
पति : गोरा
व्यावसाय : समाज सेवक

प्रारंभिक जीवनी :

सरस्वती गोरा एक भारतीय सामाजिक कार्यकर्ती थी | जिन्हेांने कई वर्शो तक नास्तिकता के नेता के रुप मे कार्य किया था | उन्होंने अस्पूश्याता और जाति व्यावस्था के खिलाफ अभियान चलाया है | सरस्वती गोरा का जन्म 28 सितरंबर 1912 मे भारत के आंध्रप्रदेश्ं के विझिअनागरम मे हुआ था |

उन्हेांने सन 1930 मे गोरा के साथ देवदासियों और विधवाओं के पूनर्विवाह का विवाह किया था | अस्पूश्याता और जाति व्यावसथा को खत्म करने के उनके प्रयासों और सामाजिक सुधार कि दिशा मे सीखने के बाद उन्हे 1944 मे महात्मा गांधी के सेवाग्राम आश्रम मे आमंत्रित किया गया था | वहां पर वे लगभग दो सपताह तक रहे थी | लावणम गोपाराजू रामचंद्र लाल और चेन्नापति विघा भारतीय राजणीतज्ञ ये दोना उनके बच्चे थे |

कार्य :

अपने पति के साथ सरस्वती ने सन 1940 मे नास्तिक केद्र कि सापना कि थी | जिसकेव्दारा उनहें नास्तिकता बुध्दीवाद और गांधीवाद पर आधारित मानवीय मूलयों को बढाया देना था | वह एक भारत के स्वतंत्रता आंदोलन कि राजनितिक कार्यकर्ता के रुप मे भी कार्यरित रही है | उनहें भारत छोडो आंदोलन के दौरान कैद किया गया था |

उपलब्घि :

पूरस्कार और सम्मान :

1) सन 2001 मे उने कर्नाटक सरकारव्दारा प्रदत्त बासा पूरस्कार के लिए चुना गया था |
2) सरस्वती को जी उी बीरला अंतर्राष्ट्रीय पूरस्कार भी प्राप्त हुआ है |
3) सरस्वती को सन 1999 मे जमनलाल बजाज पूरस्कार प्राप्ता हुआ था |
4) सरस्वती को पोट्री श्रीरामुलू तेलूगू विश्वाविघ्यालय पूरस्कार भी मिला है |

ग्रंथ/पूस्तके :

1) 2012 प्रकाशित आत्माकथा : माई लाइफ विद गोरा|
2) सरस्वती गोरा का 19 अगस्ता 2006 केा फेफडों क संक्रमण से विजयवाडा मे निधन हुआ था |